अध्यापिका के खिलाफ कोतवाली में तहरीर


लालकुआं। राजकीय कन्या इंटर कॉलेज में हुए बवाल मामले में कॉलेज की अध्यापिका द्वारा एबीवीपी कार्यकर्ता के खिलाफ लिखाए गए मुकदमे के बाद विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने जहां उक्त अध्यापिका के खिलाफ कोतवाली में तहरीर दी है। वही तहसील के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर मुकदमा पंजीकृत कराने वाली अध्यापिका पर झूठा मुकदमा लिखाने का आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की मांग की है। समाचार लिखे जाने तक पुलिस ने मामले में मुकदमा पंजीकृत नहीं किया था।

लालकुआ abvp केस
लालकुआ abvp केस

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने स्थानीय तहसील में पहुंचकर राजकीय इंटर कॉलेज की अध्यापिका रेखा वर्मा पर उत्पीड़न का आरोप लगाया। एवं विद्यालय में गत स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मिष्ठान वितरण में बच्चों के साथ भेदभाव बरतने का आरोप लगाते हुए मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की। उन्होंने कहा कि पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच की जाये। उन्होंने विद्यालय की उक्त अध्यापिका एवं अन्य स्टॉप पर बेवजह गलत आरोप लगाने, विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं को धमकाने झूठे मुकदमे में फंसाने एवं उच्च प्रशासनिक पद पर बैठे अपने रिश्तेदार का रौब दिखाने का भी आरोप लगाया। मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन की प्रति तहसील की अधिशासी अधिकारी आशा डालाकोटी को सौंपी गयी। ज्ञापन देने वालों में मुकेश कुमार, विकास गुप्ता, रितेश शुक्ला, रवि बिष्ट, विशाल कुमार, धर्मवीर, शुभम सिंह, रवि गुप्ता, हरीश गौरा, विशाल मलिक, रजनीश थापा सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

इससे पूर्व विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने स्थानीय कोतवाली में पहुंचकर मिथिलेश कुमार एवं विद्यार्थी परिषद के नगर अध्यक्ष रवि बिष्ट के नाम से राजकीय कन्या इंटर कॉलेज की अध्यापिका रेखा वर्मा के खिलाफ तहरीर दी। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि अभिलंब अध्यापिका रेखा वर्मा के खिलाफ जांच कर सख्त कार्रवाई नहीं की तो एबीवीपी कार्यकर्ता उग्र आंदोलन के तहत सड़कों पर उतर आएंगे। उक्त मामले में देर शाम समाचार लिखे जाने तक मुकदमा पंजीकृत नहीं हो सका था।

Search Now

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*